santare ke laabh

सर्दी का मतलब नारंगी होता है। हालाँकि यह एक विदेशी फल है, लेकिन यह हमारे देश में स्थानीय फलों की तुलना में अधिक जाना जाता है। संतरा हमारी विटामिन C की दैनिक आवश्यकता को पूरा करता है। साथ ही इस फल में बहुत सारे एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व होते हैं। ये पोषक तत्व प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं और विभिन्न बीमारियों और संक्रमणों से बचाते हैं। संतरे के कई और स्वास्थ्य लाभ हैं।


आइए जानें संतरे के स्वास्थ्य लाभ और पोषण के बारे में -

दृष्टि बढ़ाने के लिए:

अच्छी दृष्टि बनाए रखने के लिए विटामिन A की आवश्यकता होती है। हम सभी जानते हैं कि विटामिन A की कमी से रतौंधी होती है। संतरे में विटामिन A की अच्छी मात्रा होती है।


कैंसर के कीटाणुओं को नष्ट करने के लिए:

संतरे विटामिन के साथ-साथ अन्य एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं, जिनमें फ्लेवोनोइड एंटीऑक्सिडेंट जैसे अल्फा और बीटा कैरोटीन शामिल हैं जो कैंसर को रोकने में मदद करते हैं। संतरे में फ्लेवोनॉयड्स की मात्रा अधिक होती है जो फेफड़े और कैविटी के कैंसर को रोकने में कारगर होते हैं। इसलिए आपको खुद को कैंसर से बचाने के लिए हर दिन 1 संतरा खाना चाहिए।


प्रतिरक्षा बढ़ाता है:

ऑरेंज विटामिन सी की आपकी दैनिक आवश्यकता को पूरा करता है। साथ ही इस फल में बहुत सारे एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व होते हैं। ये पोषक तत्व प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं और विभिन्न बीमारियों और संक्रमणों से बचाते हैं।


त्वचा की सुंदरता बढ़ाने के लिए:

जैसे-जैसे हम उम्र बढ़ाते हैं, हमारी त्वचा जल्दी बूढ़ी होने लगती है। विटामिन सी के अलावा संतरे में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट त्वचा को जवां और जीवंत बनाए रखने में मदद करते हैं। बुढ़ापे में भी त्वचा चिकनी रहती है, झुर्रियां आसानी से नहीं पड़ती हैं। क्योंकि, एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी त्वचा की सुंदरता को कई सालों तक बरकरार रखते हैं।


दिल को स्वस्थ रखता है:

संतरे खनिजों से भरपूर होते हैं जो दिल की धड़कन को नियंत्रित करने के साथ-साथ इसे नियमित रखने में भी मदद करते हैं। पोटेशियम और कैल्शियम जैसे खनिज शरीर पर सोडियम के प्रभाव को नियंत्रित करके रक्तचाप और हृदय गति को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। ऑरेंज की वसा रहित, सोडियम मुक्त और कोलेस्ट्रॉल मुक्त सामग्री दिल को स्वस्थ रखती है।


Suger नियंत्रण:

संतरे के छिलके में अधिक suger नहीं होती है, इसलिए यह रक्त शर्करा के स्तर को प्रभावित करता है। मधुमेह और चयापचय सिंड्रोम वाले मरीजों को अपने रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने की आवश्यकता होती है। तो संतरे का पोषण मूल्य मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद है।


दवा अवशोषण:

ऑरेंज शरीर को दवा लेने में मदद करता है। इस फल का रस शरीर में दवा के जैव रासायनिक और मनोवैज्ञानिक प्रभावों को ले कर शीघ्र स्वस्थ होने में मदद करता है।


वजन कम करने में मदद करता है:

ऑरेंज एक 'कैलोरी मुक्त' फल के रूप में जाना जाता है, और इसमें बहुत अधिक फाइबर होता है। तो संतरे में पोषक तत्व शरीर की अतिरिक्त चर्बी को कम करने में मदद करते हैं। संतरे में मनुष्यों के लिए आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जैसे थायमिन, नियासिन, विटामिन बी 6, मैग्नीशियम और तांबा।


पोषण:

संतरे में बहुत अधिक कैलोरी नहीं होती है। एक मध्यम आकार का नारंगी लगभग 72 कैलोरी प्रदान कर सकता है। लेकिन इसमें विटामिन C बहुत होता है। इसमें विटामिन A और एंटी-ऑक्सीडेंट भी होते हैं। संतरे में पेक्टिन की मात्रा काफी अच्छी होती है। और पेक्टिन फाइबर है। इसलिए यह वजन कम करने के बिना पेट को भरने, कब्ज को दूर करने में मदद करता है।

0 टिप्पणियाँ